:

Thursday, September 12, 2013

G+ बोले तो गांधी परिवार (अनसुनी सम्पूर्ण सत्य कथा )

G से GOD
G से गणपती
G से घर
G से गांधी
मगर G + बोले तो क्या ?

अरे इतना आसान सवाल है ओर आप है की जवाब नहीं दे पाते है ......
भैया G + से " गांधी परिवार......
नहीं होता है न यकीन ...नहीं ना ?
चलो तो ये इस बात का सबूत देता हु मै की भारत मे G + का मतलब सिर्फ ओर सिर्फ़ गांधी परिवार ही होता है
सबूत नंबर एक यहाँ पर है
चलो अब यहाँ किलक करो ओर सबूत देखो

भारत मे ये G + ने धूम मचा के रखी है जबर्दस्त सुपरहिट है G +

G + की कुछ खासियत अब आप ही देख लो

* हर दो दिन मे आपके मनोरंजन के लिए पेश करता है नया घोटाला  G+

* हर घोटाला अपने ही द्वारा रचाए गए पिछले घोटाले का रीकार्ड तोड़ता है G +

* आप जिसे भगवान समजते हो उसे वो पत्थर समजता है G+

* आप कुछ बोलते हो तो " डंडे " बरसाता है G +

* भारतीय कहेलाने मे शर्म आती है G + को

* पंजाब के युवा नशेड़ी है ऐसा कहेता  है G +

* यू पी के भाइयो को भीख मंगा समजता है G +

* भ्रष्टाचारियो के लिए उनकी पार्टी मे कोई स्थान नहीं है ऐसा कहेता है G +

* हम धर्म मे भेदभाव नहीं रखते है ऐसा कहेता है G +

* उसका दामाद मानो पूरे देश का दामाद ऐसा मनवाती है G +

* आतंकी को बेटी मानकर साध्वी को तड़पाती G +की पार्टी

* " भगवे रंग " को आतंकी कहेती है मगर कश्मीर मे हत्याकांड का रंग नहीं देखती है G +

* पूरे देश मे आतंकी धमाके कर रहे है मगर हिन्दुओ को ही आतंकी मानती है G +की पार्टी

* औरतों की इज्जत " पुराना माल .... ओर ...100 टच का माल"कहेकर करती है G + की पार्टी

* भगत सिंह को शहीदी क दर्जा नहीं देती है G + की पार्टी

* मगर घोटाले बाज उनके नेता को " भारत रत्न " बना देती है G + की पार्टी

* गरीबी एक मानसिकता है कहेता है G+

* न जन लोकपाल आया ....न विदेशो मे पड़ा कालाधन आया कमाल का G+

* जिसने भी G+ के गुण गाये ... वो बन गया मंत्री महोदय चाहे गुनहगार क्यू न हो

* घोटालो पर कभी नहीं बोलता है G +

* कभी टीवी पर जनता के सवालो का जवाब देने जनता के सामने नहीं आता है G+

खैर ये कथा तो लंबी है मगर इस कथा के कुछ श्लोक आप यहाँ जरूर पढ़िये
ये रहे G + के द्वारा भारत की जनता को दिये गए पावन श्लोक



ऐसे तो बहुत सारे श्लोक है जो इस G + की सरकार ने भारत की जनता को सिखाये है ....अब फैसला आपके हाथ मे है क्या ब भी आप करते है G + से प्यार ...जिसके हाथ मे है काँग्रेस की बागडोर ...प्रमुख भी यही परिवार का और उपप्रमुख भी यही परिवार का तो क्या ये परिवार की ज़िम्मेदारी नहीं बनती है की घोटालो के बारे मे जनता के सामने कुछ खुलासा करे 

अब आप ही कहो ये सब प्लस प्लस करनेवाले परिवार को G + परिवार ना कहे तो क्या कहे ?
क्या कभी आपने देखा की इस परिवार ने घोटाला या महेंगाइ बढ़ते ही जनता के सामने आ कर खुलासा किया हो ?

आपको याद है जब अन्न हज़ारे जी अपना अन्नसन्न तोड़ नहीं रहे थे तब राहुल गांधी ने वादा करके उपवास की पूर्णाहुति कारवाई थी ...... यार वो वादा कहाँ गया ?

हमारी सरकार आते ही महेंगाइ 100 दिन मे खत्म कर देंगे मगर सरकार के वापस आते ही महेंगाइ 100 गुना बढ़ा दी

यार अब तो कहो क्यू ना काहू इस परिवार के हाथ नीचे चल रही इस पार्टी को कठपुतली ओर क्यू न कहु
इस परिवार को G + ?
:::
::: 





2 comments:

आओ रायता फैलाते है

Note: Only a member of this blog may post a comment.