:

Friday, September 21, 2012

बाप रे 25000 हजार करोड़ !

                      " अगर आपको इतना मुनाफा एक ही साल मे हो तो भला क्या आप कभी कहेंगे की आपको घाटा हो रहा है ?.......नहीं ना ? मगर हमारी कॉंग्रेस सरकार कहेती है की घाटा हो रहा है दर असल काँग्रेस सरकार अपने घोटाले के मुद्दे से लोगो का ध्यान हटाने के लिए ही इस्तेमाल कर रही है तेल के दाम, जैसे ही घोटाला लोगो के सामने आया वैसे सरकार ने बढ़ा दिये तेल के दाम और लोगो का ध्यान घोटाले के मुद्दे से हटकर तेल और महेंगाइ मे लग जाता है | "
                  
                  " महेंगाइ की जड़ याने तेल के दाम और कॉंग्रेस बार बार लोगो को एक ही बात कहेकर दाम बढ़ाती है और वो है तेल कंपनियो को घाटा हो रहा है मगर जब एक "आरटीआई " कॉंग्रेस सरकार की पोल खोलती है तब लोगो को पता चलता है की असलियत क्या है ? यहाँ घाटा नहीं बल्कि सन 2000 से लेकर आज तक तेल कंपनियोने जबर्दस्त मुनाफा ही बटोरा है | "

                    " काँग्रेस सरकार सच मे गरीबो को और इस देश की जनता को मूर्ख बना रही है "एम टेक " कर चुके विकास गेहलोत ने जब इस बारे मे एक "आरटीआई" के द्वारा जवाब मांगा तो जवाब काफी हैरत अंगेज़ आया की तेल कंपनियो ने कभी घाटा किया ही नहीं है बल्कि सन 2010-11 मे तो तेल कंपनिया 25 हजार करोड़ का मुनाफा कर चुकी है ,ओह ! फिर भी ये सरकार को ये मुनाफा नहीं नजर आता है और चिल्लाती है की घाटा हो रहा है |"

                     " अगर आपको भी यकीन न आए तो कभी बीएसई सेंसेक्स पर नजर रखिएगा और वार्षिक रिपोर्ट देखिएगा मामला साफ हो जाएगा और अगर आपको देखना ही है तो ये रहा एक चित्र






 अब अगर टोटल मारे तो पता चले की कितने का मुनाफा हुवा है और आपको कही भी इस मे नजर नहीं आएगा की नुकसान है और अगर ये चित्र भी आपको मामूली लगे तो ये देखिये जो "आरटीआई " के द्वारा प्राप्त हुवा है | "

अब आप खुद ही सभी कंपनियो के मुनाफे का टोटल मारिए जैसे सभी मे से 2010-11 को चुने .....या फिर और कोई कही आपको घाटा नजर आ रहा है क्या ? दर असल सरकार अपने ही घोटाले को दबाने के लिए घोटाला करने के बाद तुरंत ही तेल के दाम बढ़ा देती है जिस से लोगो का ध्यान घोटाले के मुद्दे से हटकर महेंगाइ मे लग जाए | "

                     " जागिए दोस्तो अब भी वक़्त है क्या आप ऐसी सरकार चाहते है जो हर वक़्त आपको बेवकूफ बनाती हो ? "

::::
:::
::    

1 comment:

  1. बहुत सुन्दर प्रस्तुति!
    आपकी इस उत्कृष्ट प्रविष्टी की चर्चा कल रविवार (23-09-2012) के चर्चा मंच पर भी की गई है!
    सूचनार्थ!

    ReplyDelete

आओ रायता फैलाते है

Note: Only a member of this blog may post a comment.