:

Sunday, January 15, 2012

रिश्वत ,संविधान और अधिकार

“ विश्वासघात करना कोई भारत के नेता से सीखे और अन्याय के खिलाफ चुप रहेना कोई भारत की जनता से सीखे ये दोनों ही बात आपको पूरे विश्व मे सिर्फ और सिर्फ भारत मे ही मिलेगी शायद नहीं बल्कि यकीनन ये नजारा आपको भारत मे ही देखने को मिलेगा जहां बोलने की आज़ादी है मगर फिर भी बोल नहीं सकते है आप अगर आप बोलेंगे तो ये भारत के महान संविधान का अपमान समजा जाएगा मगर यही संविधान को भारत के नेता सरेआम तोड़ सकते है या फिर मरोड़ सकते है अजीब सा खेल है भारत की राजनीति का |”

“ जहां कानून अंधा है और खुद कानून के रखवाले रिश्वत के बाजार मे सरेआम दिखाई देते हो वहाँ का कानून भी तो लाचार ,बेबस और नेता का साथ देनेवाला ही होगा इस बात मे कोई शक नहीं है क्यू की अगर कानून मे दम होता तो देश मे कोहराम मचानेवाले और हजारो लोगो को मौत के घाट उतारनेवाले कसाब जैसे आतंकी और अफजल जैसे लोग कैसे बच सकते है आजतक और देश को करारा झटका देनेवाले 2 जी घोटाले के आरोपी भला कैसे खीर खा सकते थे जेल मे ? यहाँ पर सब कुछ बिकता है दोस्त ,पैसो के लिए अपना ईमान ,धर्म भी सरेआम बिकता है देश के बड़े बड़े आरोपी मोज करते है और मामूली सड़क छाप लुटेरे जेल मे चक्की पिस्ते है सायद देश का कानून सड़क छाप लुटेरो के लिए ही बना है शायद ये कानून मेरे लिए है ,तुम्हारे लिए है मगर देश के संविधान के रखवालों के लिए नहीं है ये कानून ,लगता है हमारे देश के संविधान के रक्षक ने देश के कानून को भी दफन कर दिया है अपने पैरो तले |”

“ हम सिर्फ वोट देना ही जानते है मगर हमारे द्वारा चुने नेता को हम ये पूछना नहीं जानते है की ये तुम क्या कर रहे हो ? और तुम्हारे द्वारा चुनाव के वक़्त दिये गए वादे कहाँ गए हम वो अंधे है जिनहे सबकुछ दिखाता है फिर भी अंधे बनकर घूम रहे है और किस्तों मे ज़िंदगी जी रहे है सायद हो रहा है भारत निर्माण क्या इस तरहा से होगा भारत निर्माण ?अन्याय के खिलाफ चुप बैठने से अन्याय बढ़ेगा और आज हम जितनी मुसकेलियों का सामना कर रहे है उस से भी ज्यादा मुशकेली हमे आनेवाले वक़्त मे शायद उठानी पड़ेगी क्यू की हम दिन ब दिन बुजदिल हो रहे है क्या हम हमारे नेता को पूछ नहीं सकते है ? और जिस दिन हम हमारे नेता को उनके द्वारा की जा रही हर गलती के बारे मे पुछना सीख जाएंगे सायद उसी दिन से होगा सही मायने मे भारत निर्माण ,अपने अपने नेता को पुछो क्यू की वक़्त यही कहे रहा है की अगर आप पुछेंगे नहीं तो आनेवाले वक़्त मे आपकी पीढी आपको कभी माफ नहीं करेगी | ”

::::
:::
::
:

1 comment:

आओ रायता फैलाते है

Note: Only a member of this blog may post a comment.