:

Wednesday, September 5, 2012

थेन्क्यु वॉशिंगटन पोस्ट


                         " जो बात हमारे देश की मीडिया कहे नहीं पाती है उस बात को आप ने कहा, सच और सच्ची बात को जनता के सामने निर्भीक होकर रखने के लिए तहे दिल से आप का शुक्रिया |"

                          " भारत की मीडिया वही देखती है और वही सुनती है जो काँग्रेस के नेता कहते है क्यू की देश मे जब भी कोई बड़ा घोटाला होता है तो ये मीडिया वाले कुछ और ही दिखाते है जैसे की हाल मे हुवा देश का सबसे बड़ा कोयला घोटाला तो जनता के सामने कोयला घोटाला को दबाने के लिए उन्होने याने हमारे देश की मीडिया ने " कांडा " को दीखाने का चालू कर दिया और लंबी लंबी चर्चा "कांडा " के कांड पर चालू कर दी .......भाई इस देश मे सबसे बड़े घटित कोयला घोटाले से भी बड़ा ये कांडा क्यू ? क्या " कांडा " देश मे हुवे कोयला घोटाले से भी बड़ा है क्या ? ....अब क्या करे ये है हमारे देश की मीडिया घोटाले होते ही इनको याद आते है कभी "सनी लियॉन तो कभी बिपाशा " सायद हमारे देश मे हुवे घोटालो मे देश की  मीडिया भी उतनी ही गुनहगार है जितना की काँग्रेस सरकार है ...वर्ना देश के सबसे बड़े कोयले घोटाले से भी बड़ी "सनी लियॉन" या "कांडा" नहीं होता |"
            
                " काश हमारे देश की मीडिया आप से सीखे की मीडिया कैसी होनी चाहिए ? जो गुनहगार है उसे बचाना  आखिर किस देश के संविधान मे लिखा है और क्या पत्रकारिता मे भी ऐसा लिखा है की मीडिया को हर हमेश सरकार को ही महत्व देना चाहिए और सरकार के गुनाहो को छुपाना ही चाहिए ...जब देश ऐसे मोड पर खड़ा है की जहां कदम रखते ही आपको एक नया घोटाला मिलता है तब देश की मीडिया क्या कर रही है ?जनता के सामने सच्चाई रखो झूठ को महत्व देना क्या वाजिब है ? देश मे हुवे हर घोटाले को दबाने मे मीडिया का हाथ रहा है क्यू की उन्होने कभी घोटालो पर चर्चा की ही नहीं चर्चा की तो "सनी लियॉन" के फिगर की और "कांडा" ने किस कदर मारा "गीतिका" को...भाई मीडिया वालों देश को गीतिका या सनी के फिगर से भी ज्यादा जरूरत इस देश मे होनेवाले घोटालो के पर्दाफाश होने की है |"
                   
                   " अंबिका सोनी कहे रही है की देश के प्रधानमंत्री का अपमान कैसे सहेन होगा ? विरोध करो सब भारतीय ...मगर किस बात का विरोध करे क्यू की जो भी वॉशिंगटन पोस्ट ने लिखा है वो गलत थोड़ा ही है हमारे प्रधानमंत्री ने देश के लिए क्या किया है ? उन्होने तो बस घोटाले करनेवालों को बचाया है ?और खुद भी बड़े बड़े घोटाले कर रहे है  तो देशवासी कैसे करेंगे विरोध ?हाँ ,विरोध भी करते अगर हमारे प्रधानमंत्री जी ने भ्रष्टाचारी मंत्री यो को कभी बचाया नहीं होता ?विरोध तो काँग्रेस की नीतियो का होना चाहिए जो घोटाले करके भी चिल्ला रही है की इस देश का प्रधानमंत्री प्रामाणिक है ...प्रामाणिक है तो इतने घोटाले कैसे हुवे देश मे ? और कैसे खुद ने भी किया घोटाला ?सुबोधकान्त के एक खत के जरिये कोयला ब्लॉक दे भी देते है ये कैसे संभव है की हम माने की प्रामाणिक है प्रधानमंत्री ?"
                        
                      "कभी इस देश के प्रधानमंत्री ने सोचा की इस देश का आमआदमी 28 रुपये मे कैसे गुजारा करेगा ? क्यू की उनके ही अध्यक्षता वाली कमिटी ने ये घोषणा कर दी थी की 28 रुपये कमानेवाला आदमी इस देश मे आराम से गुजारा कर सकता है याद करो जब आप सभी सांसदो को महेंगाइ की मार पड़ी और आपने आपका पगार न जाने कितना गुना बढ़ा दिया तब क्या भूल गए की लाखो रुपये आपका पगार होते हुवे भी अगर आपको महेंगाइ का मार सहेन नहीं हो रहा है तो 28 रुपये कमानेवाला इस देश का आम आदमी कैसे गुजारा करेगा ?...अरे मै तो कहूँगा "शाब्बास वॉशिंगटन पोस्ट " जो करी हमारे देश की मीडिया नहीं कर सकी वो आपने कर दिखाया |"
                         
                          " क्या किसी घोटालेबाज मंत्री को कभी प्रधानमंत्री ने सजा दी ? नहीं दी, क्यू की वो खुद भी तो कहाँ प्रामाणिक है ...जनता के सामने हर घोटाले को छुपाया ,क्या उनको पता नहीं था की 2 जी मे गड़बड़ी है ? जानते थे की घोटाला हो रहा है फिर भी घोटाला होने दिया आखिर क्यू नहीं रोका प्रामाणिक प्रधानमंत्री ने वो घोटाला भाई ?"

                      " फिर से एक बार तहे दिल से "थेंकयू  वॉशिंगटन पोस्ट " करोड़ो भारतवासी के सामने सच्चाई रखने के लिए और अच्छा किया वॉशिंगटन पोस्ट के लेखक ने जो माफी मांगने से इन्कार कर दिया ,धन्यवाद आपका हमारे सरकार की तो आदत है की " सरकार करे वो लीला और जनता करे वो पाप " अगर दम है भारतीय मीडिया मे तो करे वो भी देश मे हुवे घोटालो का पर्दाफाश ....आप सभी भारतवासियों को क्या लगता है क्या करेगी हमारे देश की मीडिया कोई घोटाले का पर्दाफाश या फिर चंद रुपयो के लिए करोड़ो भारतवासियों से करती रहेगी यूंही धोखा ? "

इस ब्लॉग मे पढ्नेलयक और भी है 

:::
:::

::
:

No comments:

Post a Comment

Stop Terrorism and be a human

Note: Only a member of this blog may post a comment.