:

Thursday, September 27, 2012

मनमोहन,7721 की थाली और आरटीआई :पढ़िये दोस्तो

                     " 375 लोगो के पीछे प्रधानमंत्री मनमोहन ने उड़ाए 28,95,503 रुपये भाई ऐसा कैसा खाना था जो इतना महँगा था बड़ा कमाल का है प्रधानमंत्री इस देश का जो गरीबो को कहेता है 16 रुपये मे पोष्टिक आहार मिलता है और खुद 7721 रुपये की थाली का पोष्टिक आहार खाता है ...तुम 16 रुपये की थाली खाओ हम 7721 रुपयेवाली थाली खाते है सरकार की ये नीति भी पता चली एक आरटीआई से, क्या जमाना आ गया है जो सरकार जनता को सलाह देती है की खर्चा कम करो वो खुद... कहाँ 16 रुपये और कहाँ 7721 रुपये | "

* आखिर क्या था 7721 रुपये की थाली का रहस्य ? 
                                                       " वर्तमान यूपीए सरकार ने अपनी 3 वर्षगांठ पर अपने तमाम मंत्री ,संसद सभ्य को आमंत्रित किया हुवा था जिसमे कुल मिलाकर 375 लोग हुवे थे और ये पार्टी रखी गयी थी प्रधानमंत्री मनमोहन जी की ओर से उनके घर पर दिन था " मे 22 " ...सबसे चौंकनेवाली बात ये थी की ये पार्टी सरकार ने उस वक़्त रखी थी जब वो खुद कहे रही है की जनता को बिन जरूरी खर्चो पर कटोती करनी चाहिए मगर खुद 16 रुपये की बजाए 7721 रुपये खर्च करती है तब सवाल ये उठता है की क्या 16 रुपये की थाली पोष्टिक नहीं होती है ? "

* एक "आरटीआई" और बात खत्म
                                                        " रमेश वर्मा जो हिसार के रहनेवाले है उन्होने इस भोजन समारंभ के बारे मे एक "आरटीआई" लगाई थी और उसका जवाब जब प्रधानमंत्री कार्यालय से आया तो उसमे बताया गया था की इसका सारा खर्च विदेश मंत्रालय के अंतर्गत आनेवाली " गवर्नमेंट होस्पिटालिटी ऑर्गनाइज़ेशन और सीपीडब्ल्यूडी" ने मिलकर किया था और कूल खर्चा हुवा था " 28,95,530 रुपये " और उसका ब्योरा नीचे दिया हुवा है जो आप देख ले की किस तरहा हुवा खर्चा ? मगर उसके पहले आइये एक नजर करते है सरकार ने गरीबो को जो कहा है की 16 रुपये की पोष्टिक थाली कैसी होती है 
अगर इस थाली को खाने से जरूरी सभी पोष्टिकता मिलती है तो फिर 7721 की थाली क्यू भाई ? आखिर क्या था वो थाली मे तो आइये नजर करते है उस थाली मे भी जो इतनी महेंगी है 
ये रही प्रधानमंत्री मनमोहन की पार्टी मे रखी गयी थाली 

अब इसे देखकर आप भी सोचते होंगे की भाई वाह ! मजा आएगा मगर ये मजा ये लोग हमारे ही जेब से कर रहे है दोस्त आपने देखा की ये पैसा आया कहाँ से है तो " विदेश मंत्रालय " ...चलिये देखते है कहाँ कैसे हुवे खर्चे इस शानदार पार्टी मे 

खर्चा कूछ इस प्रकार हुवा था :
खाना फेंक दिया 228 थाली का
" देश को लूटा जा रहा है क्यू की जहां देश मे लोग भूखे मर रहे है वहाँ पर यहाँ इस पार्टी मे गौर करनेवाली बात ये थी की इस पार्टी मे खाना बनाया गया था 603 लोगो का और आए 375 लोग याने जो खाना फेंकना पड़ा वो था 228 थाली का

            " आप कहाँ है जनाब ...ये आपके देश मे हो रहा है ? और आपकी ही जेब से पैसा निकाला जा रहा है क्या 228 लोगो का खाना फेंकना या बर्बाद करना उचित है ? देश मे ऐसे न जाने कितने परिवार है जो आज भी भूखे सो रहे है और ये हरामखोर नेता खाना बर्बाद कर रहे है | "

गौर करे दोस्तो जिन गरीबो को 16 रुपयो की थाली की सूचना देती है सरकार की योजना आयोग कमिटी उसके प्रमुख होते है देश के "प्रधानमंत्री " जो खुद आज इतने गिरे हुवे बन गए है की उनको 16 रुपयो का खाना नजर मे नहीं आता है....सोचिए दोस्तो अगर ऐसा ही चलता रहा तो एक दिन देश बिक जाएगा
::::
:::

::::

::::


3 comments:

  1. Congress, Desh Drohi hai, Mughe pura visvas hai Hamare paiso ka dusprayog karne walon ki auladein Luli, Langdi, kani, jarur paida hogi, Inke kul ka naash hoga, aisa main bhagvan se dua karta hu..

    ReplyDelete
  2. कुछ तो शर्म करो बेशर्मों. ग़रीबों की आह लगेगी तुम्हें और नरक में जलोगे.

    ReplyDelete
  3. देश को आजादी दिलाने वाले महापुरुष शर्म महसूस कार रहे होंगे कि किनके सहारे अपनी थाती सौंप गये वो.....

    ReplyDelete

आओ रायता फैलाते है

Note: Only a member of this blog may post a comment.