:

Thursday, August 23, 2012

काँग्रेस के द्वारा जारी बेन साइट्स की लिस्ट ये रही { बग्गा,तोगड़िया हुवे बेन }


बीजेपी लाइन से जुड़े कुछ नेताओं और पत्रकारों के ट्विटर अकाउंट भी ब्लॉक्ड सूची में हैं।
प्रवीण तोगड़िया का टिवीटर अकाउंट और तेजिंदर बग्गा का टिवीटर अकाउंट पर भी बेन
और कौन कौन है क्या काँग्रेस का कोई नेता भी बेन हुवा है या नहीं ? ये जानिए नीचे दिये गए लिंक को खोलकर


केंद्र की यूपीए सरकार ने इंटरनेट पर सांप्रदायिक हिंसा भड़कानेवाली सामग्री पर रोक लगाने के लिए कुछ वेबसाइटों, यूआरएल, फेसबुक पेजों और टि्वटर अकाउंट्स पर रोक लगा दी है,सरकार ने इन यूआरएल की लिस्ट इंटरनेट सर्विस प्रवाइडरों को देते हुए उन्हें निर्देश दिया है कि वे इन्हें तत्काल ब्लॉक कर दें।



लिस्ट पर सरसरी निगाह डालने पर लगता है कि जहां कई सारे यूआरएल वाकई सांप्रदायिक भावनाओं को भड़काने का काम कर रहे थे और उनका इस सूची में होना जायज़ है तो दूसरी ओर बीजेपी से जुड़े कुछ नेताओं और पत्रकारों के ट्विटर अकाउंट भी ब्लॉक्ड सूची में हैं जो की हैरत अंगेज़ है

ब्लॉक किए गए लोगो मे "प्रवीण तोगड़िया का टिवीटर अकाउंट" भी है और "तेजिंदर बग्गा" का टिवीटर अकाउंट भी है और भी बहुत लोगो के नाम है आप खुद ही देख लीजिये काही आपका नाम तो नहींहै इस लिस्ट मे ? भाजपा से जुड़े कई लोगो के अकाउंट फिर फेसबूक के हो या टिवीटर के बंद कर दिये गए है

इन लिंक पर क्लिक करके जान सकते हैं कि ये ब्लॉक की गई साइटें, यूआरएल कौन-कौन से हैं।

 *  ये है 18 अगस्त 2012 को जारी किया गया लेटर 


 *  ये है 19 अगस्त 2012 को जारी किया गया लेटर 


*   ये है 20 अगस्त 2012 को जारी किया गया लेटर 


 *  ये है 21 अगस्त 2012 को जारी किया गया लेटर 

** इस ब्लॉग मे और भी पढ़ने लायक ये भी है

फेसबूकियो सावधान रहेना क्यू की ( इस पोस्ट को अवश्य पढे  ) 

:::::::
:::::
::::
::::
::
:    

6 comments:

  1. loot lo india ...jab 33 crore devi devta chup hain to 121 crore ki kya hasti.....loot lo india....

    ReplyDelete
    Replies
    1. सही कहा स्वतंत्र वार्ता जी

      Delete
  2. आपात काल की तैयारी है ,. .कृपया यहाँ भी पधारें -
    Neck Pain And The Chiropractic Lifestyle
    Neck Pain And The Chiropractic Lifestyle

    Reducing symptoms -correcting the cause.

    गर्दन में दर्द होने पर अमूमन आप दवाओं की शरण में चले आतें हैं लेतें हैं आप एस्पिरिन ,तरह तरह के अन्य दर्द नाशी ,विशेष पैन पिल्स ,इस दर्द के लक्षणों के शमन के लिए लेतें हैं आप मसल रिलेक्सर्स ,मालिश ,हॉट पेक्स .

    लेकिन गर्दन में दर्द की वजह न तो एस्पिरिन की कमी बनती और न अन्य दवाओं की .

    ReplyDelete
  3. मेरा रंग दे बसंती चोला - ब्लॉग बुलेटिन आज की ब्लॉग बुलेटिन मे शामिल है आपकी यह पोस्ट भी ... पाठक आपकी पोस्टों तक पहुंचें और आप उनकी पोस्टों तक, यही उद्देश्य है हमारा, उम्मीद है आपको निराशा नहीं होगी, टिप्पणी मे दिये लिंक पर क्लिक करें और देखें … धन्यवाद !

    ReplyDelete
    Replies
    1. तहे दिल से शुक्रिया भाई इस पोस्ट को स्थान देने के लिए :)

      Delete

आओ रायता फैलाते है

Note: Only a member of this blog may post a comment.