:

Thursday, August 23, 2012

फेसबुकियो सावधान रहेना क्यु की ( इस पोस्ट को अवश्य पढे )

सावधान दोस्तो :
फेसबूक कर देगी वरना आपको भी ब्लॉक
पढ़िये और जानिए इस से बचने के लिए आपको क्या करना होगा क्यू की
मै भी हो गया था ब्लॉक अगर आपको मेरी तरहा परेशान नहीं होना है तो दोस्तो महेरबानी करके
* अपनी प्रोफाइल मे अपना पूरा नाम लिखे जैसे की मेरी वाल पर भी अब आपको मेरा पूरा नाम दिख रहा है
    

अगर आपको ब्लॉक किया जाए तो क्या करेंगे आप ? ये रहा वो रास्ता

* आपको भारत सरकार ने जारी किए गए किसी भी प्रमाणपत्र को जिसमे आपकी फोटो हो उसे आपको फेसबूक की टीम को भेजना पड़ेगा
* आपका फोटो सबमिट करने के बाद फिर आपको फेसबूक की टीम कुछ सवाल पूछेगी और तीन बार आपको अपना पासवर्ड बदलने को थोड़ी थोड़ी देर मे कहेंगी
* आप कोई भी मेल "आई डी" से लॉगिन होते हो उसे फेसबूक टेकोवर करेगी थोड़ी देर
* अगर उसमे पाया गया की आपका फेसबूक पर और भी इस नाम से या इस नाम से संलग्न खाता है तो आपको मुश्किल होगा बच पाना
* आप को आपकी फोटो अपलोड करने के बाद 48 घंटे का इंतज़ार करना होगा और उसके बाद ही ये लंबी प्रक्रिया चालू हो जाएगी
* उसके बाद आपको अपना असली नाम दुबारा से पुच्छा जाएगा अगर उसमे भी आपने गलती कर दी तो गए काम से
* नाम पुछने से ठीक पहले आपको कहा जाएगा की आप अपना पासवर्ड बदले
* फिर आपको कहा जाएगा की आप अपना कोई भी एक लॉगिन नाम चुने जैसे की " राम "," लक्ष्मण ","रावण" वगैरा
* समजो की आपने नाम चुना " राम "तो जैसे ही आप लॉगिन फिर से होते है तो आपको अपनी मेल आई डी पर संदेश आता है की " राम "आपका स्वागत है

* फिर आपको आपके मोबाइल नंबर को अपनी "फेसबूक आई डी" से जोड़ना पड़ेगा और जोड़ना ही होगा क्यू की जब तक आप जोड़ेंगे नहीं तब तक आप आगे नहीं जा सकते है ..
* जोड़ना इस लिए पड़ेगा क्यू की जैसे ही आप लॉगिन करते है वैसे आपको हर बार एक कोड भेजा जाएगा ॥ये प्रक्रिया जरूरी है भाई
* अगर आप चाहे तो इसे अपना अकाउंट मिलने पर फिर से आप बंध भी कर सकते है मगर ये प्रकिरया जरूरी है
* आपके द्वारा भेजे गए "फोटो आई डी " को पूरी तरहा जाँचते है ॥अगर आपकी जन्म तारीख भी गलत है तो आप को कायम के लिए ब्लॉक कर दिया जाएगा भाई, आपका पता ,भी सही होना चाहिए और साथ मे आपका नाम अपनी वाल नेम से अलग नहीं होना चाहिए
* याद रहे : अपनी वाल पर सिर्फ आपका नाम नहीं चलेगा ,आपके पिता का भी नाम होना जरूरी है
* अगर कोई अपनी वाल पर जैसे की मैंने लिखा था " तुलसीभाइ पटेल " तो वो गलत था ॥उन्होने मुझे 10 मिनट का टाइम दिया और कहा सही करो
* फिर मैंने अपना पूरा नाम लिखा " तुलसीभाइ खताभाई पटेल " तो तुरंत मुझे आगे की जांच के लिए भेजा गया वरना मै 10 मिनट मे ब्लॉक हो जाता
* आपको किसी भी कीमत पर सरकार द्वारा दिये गए फोटो आई डी को अपलोड करना ही पड़ेगा हालांकि पूरी जांच पड़ताल के बाद फेसबूक कहेता है की उसे हम अपने सर्वर से हटा देंगे
* तब तक फेसबूक आपकी हर एक पोस्ट की जांच पड़ताल भी करेगा अगर आप गुनाह मे आए तो सायबर क्राइम मे भी आ सकते है और इसी लिए तो 48 घंटे तक चलता है ये प्रोसेस
* बिना सूचना दिये ही आपको ब्लॉक कर देती है फेसबूक आप चाहे अपनी वाल पर काम करते हो तो अचानक आप लोग आउट हो जाएंगे और फिर आपके कम्पुटर पर संदेश आता है की आप हमे अपना फोटो भेजे जिसमे सरकार का प्रमाण हो
* आपको भेजे गए हर मेल मे फेसबूक आप से जैसे चीत्र मे देख रहे है वैसे सवाल पुछेगा
* याद रहे सब से गौर करनेवाली बात ये है की अगर आप एक ही पासवर्ड से अपना ई मेल अकाउंट और फेसबूक अकाउंट चला रहे है तो फेसबूक आपको अपने ई मेल अकाउंट का पासवर्ड भी बदलने को कहेंगी

* ये बड़ा ही लंबा और भेजा घुमानेवाला प्रोस्सेस है दोस्तो इस से आप बचना चाहते है तो अपनी फेसबूक वाल पर अपना पूरा नाम लिखे और अपने पते मे अपना वही पता लिखिए जो पता आपके ड्राइविंग लाइसेंस या फिर आपके पासपोर्ट मे हो
* फेसबूक से पुछने पर पता चला की ये प्रोस्सेस्स से सभी फेस्बूकिए को गुजरना ही पड़ेगा
* आपके जो भी अप्लीकेशन का इस्तेमाल करते है वो सब की जांच पड़ताल करेगी फेसबूक यहाँ तक की अगर आपका अकाउंट ट्विटर से जुड़ा हौवा है तो आपको उसके बारे मे भी पूछा जाएगा
             " सायद ऐसा करने से साइबर क्राइम कम हो और जो अफवाए फैला रहे है वो पकड़ मे आ जाए और ये भी हो सकता है की सरकार का दबाव हो फेसबूक पर ,मगर जो भी है ये प्रोस्सेस दिमाग का दहि कर देती है भैया 48 घंटे तक वो मेरी पूछताछ करते रहे और मै जवाब देता रहा कभी कभी उनकी पूछताछ से तंग आ कर ऐसा सोच रहा था की काश हमारे देश की पुलिश भी " कसाब " जैसे आतंकी की ऐसी ही पूछताछ करती तो वो भी अपने काले कारनामे कबुल कर देता हा हा हा  ,जो भी हो दोस्तो आप सब को मेरी यही प्राथना है की आप अभी से जागे और जरूरी बदलाव कर दे अपने फेसबूक वाल पर |" 

इस ब्लॉग मे पढ़ने लायक और भी है
देखिये मजेदार वीडियो जो बता रहा है सच्चाई जो हसाएगा भी यार
" मनमोहन सिंह गेट वेल सून " ( व्यंग वीडियो के साथ
::::::::::::
:::::::::
::::
::: 

14 comments:

  1. लग सकती है फेस पर, बुकिये तगड़ी ठेस |
    मुद्दा है पहचान का, करो प्रोब्लम फेस |
    करो प्रोब्लम फेस , सही परिचय है वांछित |
    हो न कोई केस, कभी न होओ लांछित |
    हो जाओ गर ब्लाक, प्रमाणिक कॉपी भेजो |
    कट जाएगी नाक, इंट्रियाँ सही सहेजो ||

    ReplyDelete
  2. रविकर साहब चंद अलफाज मे आपने बहुत ही गहेरी बात कर दी और आपकी ऐसी लेखनी ही हमे दीवाना बना देती है

    ReplyDelete
  3. वाकई ये तो बड़ा ही उबाऊ प्रोसेस है !!

    ReplyDelete
    Replies
    1. सही कहा पूरण जी ये बड़ा ही पकाऊ प्रोसेस है अरे पहले ब्लॉक करते है फिर परेशानी पर परेशानी बढ़ाते ही जाते है

      Delete
  4. उत्कृष्ट प्रस्तुति बुधवार के चर्चा मंच पर ।।

    ReplyDelete
    Replies
    1. तहे दिल से सुक्रिया रविकर साहब आपने मेरा होसला और भी बढ़ा दिया

      Delete
  5. बड़े झंझटवाले काम हैं -क्या फ़ायदा !

    ReplyDelete
    Replies
    1. सही कहा ये झंझटवाला काम है मगर जो लोग फेसबूक से जुड़े हौवे है उनके लिए ये खतरे की बात भी हो सकती है

      Delete
  6. अजी जब ओखली में सिर दिया तो मूसल का क्या डर .

    ReplyDelete
    Replies
    1. हा हा हा सही कहा :)

      Delete
  7. अजी जब ओखली में सिर दिया तो मूसल का क्या डर ..हमें क्या मौन सिंह असमिया समझा हैआपने .कृपया यहाँ भी पधारें -
    Neck Pain And The Chiropractic Lifestyle
    Neck Pain And The Chiropractic Lifestyle

    Reducing symptoms -correcting the cause.

    गर्दन में दर्द होने पर अमूमन आप दवाओं की शरण में चले आतें हैं लेतें हैं आप एस्पिरिन ,तरह तरह के अन्य दर्द नाशी ,विशेष पैन पिल्स ,इस दर्द के लक्षणों के शमन के लिए लेतें हैं आप मसल रिलेक्सर्स ,मालिश ,हॉट पेक्स .

    लेकिन गर्दन में दर्द की वजह न तो एस्पिरिन की कमी बनती और न अन्य दवाओं की .
    ram ram bhai
    शुक्रवार, 24 अगस्त 2012
    आतंकवादी धर्मनिरपेक्षता
    "आतंकवादी धर्मनिरपेक्षता "-डॉ .वागीश मेहता ,डी .लिट .,1218 ,शब्दालोक ,अर्बन एस्टेट ,गुडगाँव -122-001

    आतंकवादी धर्मनिरपेक्षता

    राजनीतिक लफ्फाज़ फैला रहें हैं भ्रम ,

    कि आतंकवादी का नहीं होता कोई धर्म ,


    अभिप्राय : है यही और यही है संकेत ,

    कि आतंकवादी होता है धर्मनिरपेक्ष .

    धन्य है सरकार ,क्या खूब बहका रही है ,

    आतंकवाद का क्या ,धर्मनिरपेक्षता तो बढ़ा रही है .http://veerubhai1947.blogspot.com/

    ReplyDelete
    Replies
    1. जी बिलकुल सही कहा है आपने

      Delete
  8. लगता है आपने नया नया सिखा है कम्प्यूटर चलाना| आप जिन बातों को बहुत बड़ी तोप की तरह प्रस्तुत कर रहे हो वो सब फेसबुक अकाउंट हैक होने के संदेह पर किया जाता है|

    ReplyDelete
  9. कमल भाई ,आपको बता दु की कंप्यूटर मेरे लिए बहुत पुराना हो चुका है
    मेरे साथ ये हुवा उसके दूसरे दिन ही भारत सरकार ने भारत की कई साइट बंध की थी और आज भी ये सिलसिला चालू है फेसबूक की और से
    और रही बात तोप की तो मै जब भी तोप चलाता हु तो सही दिशा मे ही चलाता हु फर्क इतना है की कुछ लोग अनदेखा कर देते है :)

    ReplyDelete

Stop Terrorism and be a human

Note: Only a member of this blog may post a comment.