:

Friday, August 26, 2011

शर्म बेचकर अश्लीलता का दामन पकड़ा (विडियो के साथ) :फिल्म स्टार "योगिता"


" अन्ना हजारे जी को सपोर्ट के बहाने टोपलेश होनेवाली अभिनेत्री "योगिता" के कदम को कितना जायज माना जाना चाहिए ? और कहाँ गई वो " नारी संघटन " जो हर बार नारी पर होते अत्याचार की ही बात करती है ? क्या इसे अश्लीलता भरा अंगप्रदशन कहा जाये या फिर अन्ना हजारे के नाम पर भारत की आन,बान,शान "तिरंगे " का अपमान ..या फिर सस्ती पब्लिसिटी कहा जाये ..बात चाहे जो भी हो मग़र एक बात साफ़ होती है की " नारी संघटन "को "पूनम पांडे "के न्यूड होने पर या फिर " मन्दिरा बेदी "के न्यूड होने के साथ साथ अपने सरीर पर "ॐ" लगवाकर तस्वीरे खिंचवाने पर भी " अश्लीलता दिखाई नहीं दे रही है ?... क्या आज नारी संघटन अँधा हो गया है ? या फिर सिर्फ नाम का रहे गया है " नारी संघटन " ? "

" भारत सरकार अश्लील विज्ञापन पर जब रोक लगा रही है उसी वक़्त " भारत की नारी " जिस संस्कृति के लिए जानी जा रही है ..उस " लाज , शर्म " को सरेआम बाजार में लीलाम कर रही है | " ...नारी संघटन को नारी पर होते अत्याचार दिख रहे है मग़र नारी के द्वारा दिखाई जाती अश्लीलता नहीं ..आज अगर ऐसा ही कार्य किसी पुरुष ने किया होता तो ..नारी संघटन जमकर विरोध के साथ कड़ी कार्यवाही की मांग भी करती मग़र आज ..वही नारी संघटन "किसी नारी के द्वारा अपने खुले जिस्म पर "तिरंगा " लगाकर तस्वीरे खिंचवाने पर चुप है | "

" बात यहाँ सिर्फ अंगप्रदशन की ही नहीं है मग़र आज "नारी संघटन" को फिर से सोचना पड़ेगा की " आखिर ऐसी क्या बात है ..जिसकी वजह से भारत की नारी अपना सच्चा गहेना " अपना जिस्म " दिखाने को राजी हो जाती है ? ...एक नारी के द्वारा ऐसी हरकत पर नारी संघटन को ठोस कदम उठाने ही चाहिए ..कही ऐसा ना हो की " नारी संघटन" की चुप्पी ये साबित ना कर दे की "आज की नारी खुद खिलौना बन गई है ? ..अब वक़्त आ गया है की ऐसे नारी संघटन फिर से एक बार सोचे की आखिर देश की इज्ज़त और नारी के सच्चे गहने को कैसे बचाया जाये ? "

" आप खुद ही देख ले "मन्दिरा बेदी" को जिसकी तस्वीर उप्पर है "

और ये विडियो जरूर देखे ..ये विडियो "अभिनेत्री" योगिता का है जो ..हिंदी फिल्म में और मराठी फिल्म में काम करती है ..ऐसी नारी का क्या करना चाहिए ये अब " नारी संघटन" ही तय करे |"




इस अभिनेत्री का कहेना है की :

"संसद में जनलोकपाल बिल पास हो जाने के बाद वह टॉपलेस होकर दौड़ भी लगाएंगी| दूसरी मॉडलों ने सिर्फ पब्लिसिटी बटोरने मात्र ही कहा था | योगिता ने न्यूड होने के पीछे का कारण बताते हुए कहा कि अन्ना के आंदोलन के आड़ में कई नई अभिनेत्रियां न्यूड होने की बात कर सस्ती लोकप्रियता तो बटोर रही है मगर किसी में ऐसा करने की हिम्मत नजर नहीं आई| मैं ऐसा कर यह संदेश देना चाहती हूं कि मैं सच में अन्ना का समर्थन करती हूं और न्यूड होकर सिर्फ पब्लिसिटी बटोरना मेरा इरादा नहीं है|

क्या " नारी संघटन " जन लोकपाल बिल" पास होने के बाद इस अभिनेत्री को "टोपलेस " होकर दौड़ लगाने से रोकसकेगा ?




22 comments:

  1. kya bataya jaaye in logon ke liye, ye to lokpriyata haasil karne ke liye kuchh bhi kar denge..

    ReplyDelete
  2. बेशर्मों की कोई कमी नहीं है हमारे देश में।

    ReplyDelete
  3. dekh kar achha nahin laga boss !

    mandira to fir bhi thik thak hai ..ye to dekhne ke laayak bhi nahin...

    ise anna ka samarthan vstra pahan ke karna chaahiye tha

    jai hind !

    ReplyDelete
  4. क्या कहें..कहीं सुना होगा तन, मन, धन से सपोर्ट....शायद इनको तन का अर्थ यही समझ आया हो!!

    ReplyDelete
  5. जी ये सब तय है..
    आज़ादी का अर्थ इनसे बेहतर कौन समझा है..

    ReplyDelete
  6. वे सोच रही होंगी कि वेतन में भी तन होता है तो ...

    ReplyDelete
  7. fb par
    Darshan.Dinesh Bhai.Bhavsar

    nari sangathan jab mika rakhi ke mamleme pad ta hy pur jab sadvi pragya sign ki batt ati hy to hawa nikal jati hy ,3 baar narcotest me vo nirdos sabit hue hy pur fir bhi jail me hy

    ReplyDelete
  8. आदरणीय सर, सबसे पहले तो आपसे क्षमा प्रार्थी हूँ कि पिछले कुछ समय से आपके ब्लॉग पर उपस्थिति नही दे सका| कुछ व्यस्तता के चलते नहीं आ सका|
    आपकी इस पोस्ट पर भी पूर्ण सहमती रखता हूँ| यह केवल लोकप्रियता हासिल करने का सस्ता तरीका है| अब देखिये न, जब पूनम पांडे ने ऐसी बचकानी इच्छा प्रकट की तब उसे कोई जानता भी नहीं था| किन्तु कुछ दिनों बाद ही राम गोपाल वर्मा ने उसे अपनी नयी फिल्म के लिए साइन कर लिया| पूनम पांडे का मकसद तो हल हो ही गया न|
    योगिता का भी ऐसा ही कोई मकसद है|

    ReplyDelete
  9. भाई दिवेश गौर जी कोई तन से नंगा है कोई मन (आत्मा )से नंगा है.ये सब अन्ना की तपश्या मैं सस्ती लोक प्रियता चाहते हैं.अभी क्या है देखना और भी जो लोग किसी तरह जुगाड़ लगाकर अन्ना के पास तक पहुँच गए हैं अन्ना को अपने निजी स्वार्थों के लिए बेचेंगे.इस घ्रणित काम के लिए इन्हें शर्म नहीं आएगी क्यौकी ये बड़े बेशर्म हैं. pratap fauzdar

    ReplyDelete
  10. Cheap publicity stunt !These girls are opportunistic.

    ReplyDelete
  11. दिवास सर आप से सहेमत हु मै .. आज अगर नारी संगठन ऐसे मामले पर कोई कड़ी कार्यवाही नहीं करता है तो शायद इस देश की संस्कृति के मायने ही बदल जायेंगे .. और क्या तिरंगा जिसे हम अपनी जान से भी ज्यादा प्यार करते है वो ..उनकी अश्लीलता का एक हिस्सा बने ये भला कोई कैसे बर्दास्त कर सकता है ...

    ReplyDelete
  12. अलबेला सर , मै भी ये देखकर हैरान हो गया था की जिस देश की नारी का गहेना उसकी इज्ज़त है ..आज वही गहने का सरे आम खुद नारी ही इस तरह से अपने निजी स्वार्थ के खातिर दुरुपयोग कर रही है .... साथ में इस देश की इज्ज़त तिरंगा को भी शामिल कर दिया

    ReplyDelete
  13. aisa kaisa support ki nude hona pad raha hain ye to bikul galat hain aaj topless hain kal fully nude hokar doudh lagayegi ye tab kya karega bharat.....ye to wahi baat ho jaayegi ki NANGO SE TO KHUDA BHI DARTA HAIN

    ReplyDelete
  14. IN BEHUDON KO DUSRI GIRLS KI BILKUL PARWAH NHI....

    ReplyDelete
    Replies
    1. Hi,I think you are rite....but there are a weak point that you should to think about....

      Delete
  15. sach to ye hai boss k aaj kal industry m inke jaise actors k liye kafi strugle badh gaya hai,, karen bhi kya,, isliye roji roti ka sawal h,, jo kahoge uthar denge paise k liye,, anna ka to bahana h,, jab open me ye actress itna support karti hain nude hoker, to sochiye parde ke peeche kitna hota hoga,, ise rokna muskil h guru.. aaj kal her dusri ladki m kida hota hai show off ka, kya kare, fir kehte hain hamare sath balatkaar hogaya,, ab jab sako apna nanga pan dikhaoge to aisa hi hoga,,

    ReplyDelete
  16. " is tarah ki ghatanaye roki ja sakti hai agara sarkar aur " naari sanghthan koi kadi karywahi kare

    ReplyDelete
  17. मुझे तो इनको नारी कहने में भी शर्म आती है ..

    ReplyDelete
  18. ऐसी सस्ती लोकप्रियता को भुनाने वालों की कमी नहीं है समाज में .. पर ऐसे कामों की भत्सर्ना हर स्टार पर होनी जरूरी है ...

    ReplyDelete
  19. बहुत ही शर्म की बात है ! अब इसके बारे में मैं क्या कहूँ!
    मेरे नए पोस्ट पर आपका स्वागत है-
    http://seawave-babli.blogspot.com/
    http://ek-jhalak-urmi-ki-kavitayen.blogspot.com/

    ReplyDelete

आओ रायता फैलाते है

Note: Only a member of this blog may post a comment.