:

Wednesday, October 12, 2011

अन्ना के साथी प्रशांत भूषण की धुलाई ( विडियो देखिये )



" मशहूर वकील और अन्ना हजारे के साथी " प्रशांत भूषण " को युवक ने पीटा | "

" कश्मीर पर किये विवादित बयान को लेकर नाराज युवक ने उठाया ये कदम .."ऐसी प्रतिक्रिया प्रशन भूषण ने दी है और इन युवको के खिलाफ पुलिश कम्प्लेन कर दी है , प्रशांत भूषण को बहुत ही बुरी तरह पिटते हुवे युवको को आप इस विडियो में देख सकते है| "



आपको ये बता दू की इन युवको के पास से कोई भी हथियार बरामद नहीं हुवे है ..मग़र जिस तरह से वो प्रशांत भूषण की पिटाई कर रहे थे उसे देखकर लोगो में फैले आक्रोश को आप भी महसूश कर सकते है |

सुक्रिया गूगल बाबा :

12 comments:

  1. क्या इतनी हिम्मत ये युवक उन लोगों पर भी दिखा सकते है, जो सालों से ऐसा ब्यान बक रहे है, शायद नहीं,
    कमजोर पर हर कोई वार कर देता है ताकतवर पर कर के देखे ताकि पता चले,
    मैं किसी का नाम नहीं ले रहा हूँ नाम लेने से काना चिड जाता है।

    ReplyDelete
  2. jat devta ji aap bhi to is desh ke vasi hain aap ko kis ne roka hai
    aap is ki himayt kis liye kr rhe hai

    ReplyDelete
  3. vedvyathit, जी मैंने पहले ही कहा था कि मैं किसी का नाम नहीं ले रहा हूँ, अब ये कार्य अच्छा है या बुरा, इस पर भी मुझे कुछ नहीं कहना जो जैसा करेगा वैसा भुगतेगा, उसने कुछ कहा, इसे बुरा लगा, कर दी ठुकाई, अब ये भुगतेगा, पहले ऐसा ही कुछ कहने पर शायद अग्निवेश भी पिटा था, लेकिन ऐसे तो कई है जिन्होंने इससे भी बुरा-बुरा कहा लेकिन कानून ने उनका क्या बिगाड लिया, अगर किसी एक का भी कुछ बिगडा हो तो जरुर बता देना। ये बात तो जितनी लम्बी चाहो खींच सकते हो। यदि कानून अपना कार्य समय पर करे तो ऐसी नौबत ही ना आये?

    ReplyDelete
  4. sandeep sir bahut hi jald is vishay par bhi post aa rahi hai thoda abhi kaam chalu hai sayad kal tak aa jayegi

    ReplyDelete
  5. vedvyathit sir aapka bhi tahe dil se sukriya

    ReplyDelete
  6. आपकी पोस्ट का इन्तजार रहेगा,

    ReplyDelete
  7. संदीप भाई
    आपकी बात सही है कि ऐसी बयानबाजी तो कई लोग वर्षों से कर रहे हैं, उन्हें भी सजा मिलनी चाहिए| किन्तु जिस टीम अन्ना ने पूरे देश को एक अँधेरे में डाल रखा है और खुद को मसीहा बता रहे हैं| देश की जनता उन्हें अपना उद्धारक मानती है| जब उसी टीम का कोई सदस्य ऐसी गंदगी फैलाए तो निश्चित रूप से सजा का पहला हकदार वही होगा|
    महाराणा प्रताप ने भी यही किया था| हल्दीघाटी के युद्ध में पहला निशाना मानसिंह को बनाया| उनका कहना था कि मुग़ल तो अपना काम कर रहे हैं किन्तु मानसिंह तो मेरा भाई है| ये गद्दार कैसे मिकल गया, पहले इसे ही मारो ताकि आगे से कोई हमसे गद्दारी न कर सके|

    प्रशांत भूषण के साथ जो हुआ, वह बिलकुल सही है| बल्कि हमारा तो मानना है ऐसे लोगों को राष्ट्रद्रोही की श्रेणी में डालना चाहिए और राष्ट्रद्रोह की तो एक ही सजा है| प्रशांत भूषण तो फिलहाल सस्ते में निपट गया|

    ReplyDelete
  8. diwas sir ..sahi kaha hai aapne aur ye kyu ho raha hai uske liye aa rahi hai meri agali post ...intezar kijiye ..aur bahut hi khushi hui muje kaafi dino baad aapke didar huve ...sab kushal mangal to hai na ?

    ReplyDelete
  9. बहुत ही अनुचित रहा जो कभी होना नहीं चाहिए था! आपने सही मुद्दे पर सटीक लिखा है!
    मेरे नए पोस्ट पर आपका स्वागत है-
    http://ek-jhalak-urmi-ki-kavitayen.blogspot.com/
    http://seawave-babli.blogspot.com

    ReplyDelete
  10. sukriya babli ..mai jaroor aaunga aapki har pot padhni hai muje ..aur thik commnet bhi karni hai :)))

    ReplyDelete
  11. तुलसी सर
    सब कुशल मंगल है| कुछ व्यस्तता के चलते आजकल ब्लॉग पर अधिक समय नहीं दे पा रहा|
    आपकी आने वाली पोस्ट का इंतज़ार रहेगा|

    ReplyDelete

Stop Terrorism and be a human

Note: Only a member of this blog may post a comment.