:

Wednesday, March 2, 2016

सुन रहे हो मानव अधिकारवालों , कॉंग्रेस कैसी कमिनी है

पूर्व गृह सचिव पर थर्ड डीग्री का इस्तेमाल करके आतंकी इशरत को देश की बेटी बनाने मे कोई कसर नहीं छोड़ी चिदम्बरम ने , सिगरेट से उनकी पेंट दागना , CBI पीछे लगाना , मानसिक टोर्चर करना जैसे लगभग सभी हतकंडो का इस्तेमाल आतंकी " इशरत जहां " को बचाने के लिए किए गए और कुछ बाकी रहा तो एफीडेवीट भी बदल दी 

2013 मे मैंने लिखी थी ये पोस्ट, जरूर पढे यहा क्लिक करे  जो आज सच साबित हुई 

पूर्व गृह सचिव ने क्या कहा इस मामले मे ? पढ़ीए प्रमुख मुद्दे 

इशरत जहां स्पेशल

* इशरत मामले में कांग्रेस ने बदला था एफिडेविट : पूर्व गृह सचिव पिल्लै का खुलासा , पिल्लै ने कहा की UPA सरकार ने IB को फ़साने के लिए उन पर बहुत दबाव डाला था ,SIT के एक अधिकारी ने उनकी बात न मानने पर सिगरेट से उनकी पेंट तक दाग दी थी और CBI की महिला उनके पीछे पड गई थी

इशरत जहां केस में दो एफिडेविट फ़ाइल किये गए थे पहला 6 अगस्त 2009 को और दूसरा 30 सितम्बर 2009 को ,पहले एफीड़ेवीट में इशरत समेत मारे गए 4 लोग आतंकी थे लेकिन दुसरे एफीडेवीट में बात एकदम उल्टी थी

* 4 प्रमाण के बावजूद भी चिदंबरम ने एफीड़ेवीट क्यों बदला ? सीर्फ नरेन्द्र मोदी और अमित शाह को फ़साने के लिए :- रविशंकर प्रसाद भाजपा

* इशरत जहां के पास दो पासपोर्ट थे एक हिन्दू नाम से एक मुस्लिम नाम से ,इशरत एक आतंकी थी ये बात " गजाबा टाइम्स " जो जैश-ए-मोहम्मद आतंकी संघठन का मुखपत्र है उससे साबित भी होता है

* इशरत जहां केस में गुजरात सरकार और IB को फ़साने किये गए थे चिदंबरम द्वारा एफीड़ेवीट में बदलाव ,इस केस में गृह सचिव पिल्लै को टॉर्चर करके जबरन करवाए थे हस्ताक्षर


* इशरत जहां एन्काउन्टर केस में आरोपी गुजरात पुलिस अफसरों से केस को रद्द करने की मांग ,सुप्रीम में याचिका


2013 मे मैंने लिखी थी ये पोस्ट, जरूर पढे यहा क्लिक करे  जो आज सच साबित हुई 


सत्ता के लिए देश पर एक आतंकी को बेटी के रूप मे थोप दीया 

सत्ता के लीये और नरेन्द्र मोदी को फसाने के लिए देश का भी भला नहीं सोचा कॉंग्रेस ने और एक आतंकी को देश की बेटी करार दे दीया ,और गुजरात के बहादुर पुलिस कर्मीयों को जनता की रक्षा करने की कीमत जेल जाकर चुकानी पड़ी ,थू ... है कॉंग्रेस और उसकी गंदी राजनीती पर  


एक सवाल अमेरिका वालो से

भारत मे कॉंग्रेस के रहते हुवे हमेशा दंगे ,बम ब्लास्ट होते रहे क्यू की कॉंग्रेस तो " ओसामा " जैसे आतंकियो को भी "ओसामा जी " कहेकर आदर देता है ,एक सवाल अमेरिका वालो से " क्या आप आपके ट्वीन टावर हमले के मास्टर माइंड ओसामा को कोई ओसामा जी कहेकर बुलाये तो आप क्या कहेंगे उसे ?? आतंकवादी का साथी या आतंकवाद के खिलाफ लड़ाई लड़ने वाला ? कॉंग्रेस तो भारत मे आतंकवाद को बढ़ावा दे रही है ये लगभग सारे भारतीय जानते है सीवा ' मानव अधिकार ' के 

आतंकी के समर्थन मे नारे लगे और काँग्रेस पहुँच गई बचाने 

JNU मे देश के खिलाफ और आतंकी के समर्थन मे नारे बाजी हुई तो काँग्रेस वहाँ पहुँच गई और उन लड़को का बचाव करने लगी जो आतंकी के समर्थन मे नारे लगा रहे थे , ये वो आतंकी है जिसको खुद काँग्रेस ने ही सत्ता के लिए फांसी पर लटका दीया था और अब उसी आतंकी का समर्थन केवल सत्ता पाने के लिए कर रही है 



और ये विडीओ भी देखे कैसे दंगे भड़काते है कोंग्रेसी 'जगदीश  टाईटलर "


काँग्रेस की बात मत सुनो मानव अधिकारवालों , अपनी आंखे खोलकर सच्चाई क्या है वो देखो , इशरत के नाम पर ,इशरत बेगुनाह है ऐसा साबीत किसी भी हाल मे करके " देश को धर्म " के नाम बाँट के सत्ता पाना ही काँग्रेस का असली मकसद था .....  भले ही देश मे धर्म के नाम दंगे क्यू ना हो ? 

एक नजर इसपर भी करे 








काँग्रेस के काले करतूतों की वजह से ही भारा मे लगे एक आतंकी के लीये ऐसे पोस्टर 

तो कई लोगो ने कहा ' इशरत हमे माफ कर दो ...... क्यू की वो सब सच्चाई से अंजान थे उस सच्चाई से जिसे कोग्रेस ने बदल कर दुनिया के सामने रख दी थी 

::::: 
:;:


No comments:

Post a Comment

आओ रायता फैलाते है

Note: Only a member of this blog may post a comment.