:

Wednesday, June 5, 2013

नरेंद्र मोदी ओर दिग्विजय के द्वारा खुलासा ( वीडियो ) - गोधरा कांड


नरेंद्र मोदी ने दिग्विजय सिंह के मुंह पर "गोधरा कांड" का जवाब दिया

* पुलीसबल की मदद के लिए क्यू किया कॉंग्रेस सरकार ने इन्कार ?
* तीन राज्यो के पास मोदी ने मांगी थी मदद
* राजस्थान,महाराष्ट्र, मध्यप्रदेश जहां उस वक़्त कॉंग्रेस का शाशन था
* मध्यप्रदेश मे उस वक़्त दिग्विजय भी सत्ता मे थे
* गुजरात मे 8000 पुलीस की कमी थी गोधरा कांड हादसे के वक़्त
* 1993- 2003 तक मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह थे

* पुलीस की कमी ओर मदद की गुहार

                गुजरात के मुख्यमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी ने कोंग्रेसी दिग्विजय के साथ बैठकर गोधरा कांड का खुलासा किया था जिसमे उन्होने दिग्विजय सिंह की मौजूदगी मे कहा है की जब गोधरा कांड हुवा तब गुजरात मे पुलिश कर्मी कम थे ओर 8000 पुलिश कर्मियों की कमी थी इस कमी को पूरा करने के लिए ओर दंगे रोकने के लिए उन्होने पड़ोसी राज्यो के पास उनकी पुलिस फोर्स को गुजरात भेजने की गुहार लगाई थी मगर किसिने मदद नहीं की क्यू की मोदीजी ने जीस तीन राज्यो के पास मदद मांगी थी वहाँ पर सत्ता थी कॉंग्रेस की ओर वे राज्य थे मध्यप्रदेश...महाराष्ट्र ..... ओर राजस्थान ओर खुद दिग्विजय भी उस वक़्त सत्ता मे ही थे |”  

* कहाँ गई कॉंग्रेस की मानवता ?

         जब ये बात दिग्विजय सिंह को मोदी जी सुना रहे थे उस वक़्त दिग्विजय का चहेरा देखने लायक हो गया था क्यू की दिग्विजय ओर कॉंग्रेस मोदी की तुलना गोधरा कांड के बाद हिटलर से करती थी मगर मोदी जी के द्वारा जब दिग्विजय के मुंह पर किया गया खुलासा साबित करता है की साली गुनहगार कॉंग्रेस है जिनहोने मदद नहीं भेजी ओर मुसलमानो के नाम पर ओर गोधरा कांड के नाम पर आजतक झूठ मूठ के आँसू बहा रही है अगर उस वक़्त मोदी जी के द्वारा फेक्स भेजकर मांगी गई पुलिस फोर्स की मदद को स्वीकार करके मानवता की द्रष्टि से पुलिस बल कॉंग्रेस भेजती तो ये कांड इतना खतरनाक नहीं होता |”
 
* गोधरा दंगो के वक़्त कहाँ किसकी सत्ता थी ये यहाँ पर जानिए
महाराष्ट्र - विलासराव देशमुख ( 1999 से 2003 तक )-कॉंग्रेस
मध्यप्रदेश - दिग्विजय सिंह (1993 से 2003 तक) - कॉंग्रेस
राजस्थान - अशोक गेहलोत (1998 से 2003 तक) - कॉंग्रेस  
 
 
* सीमा पर से सेना को बुलाया गया था

           जब पड़ोसी राज्यो ( कोंग्रेसी सत्ता ) ने मदद की अपील ठुकराई तब भारतीय सेना जो सीमा पर तैनात थी उसे स्पेसियल एयर लिफ्टर से अहमदाबाद लाया गया था ...ओर इन सभी बातों की पुष्टि “SIT” ने भी की है ओर इस बात का जिक्र भी किया है |”

* मुसलमान भाइयो के प्रति झूठी हमदर्दी साबित हो गई

               ये वीडियो बहुत कुछ बता रहा है जरा आप भी देखिये मोदी जी की सीधी ओर खरी बात सुनकर क्या हालत हुई है दिग्विजय सिंह की इस वीडियो से साफ होता है की मुसलमान भाइयो को ये वीडियो से कुछ सीख लेनी चाहिए क्यू की ये वीडियो मे कोंग्रेसी दिग्विजय के साथ बैठेकर मोदी जी उसके मुंह पर कहे रहे है ओर दिग्विजय के चहेरे का रंग उड रहा है क्यू की कॉंग्रेस को हिन्दू या मुसलमानो की लास पर सियासी रोटिया जो सेकनी थी | “

इस वीडियो से उभरता एक सवाल ....

* अगर मोदी जी की बात गलत है तो दिग्विजय चूप क्यू बैठे है ?

            कॉंग्रेस को मुसलमान भाइयो से प्यार नहीं है मगर सत्ता से प्यार है क्यू की अगर सच मे मुसलमान भाइयो से कॉंग्रेस को प्यार होता तो कॉंग्रेस का जहां शासन था वे तीन राज्यो महाराष्ट्र ,मध्यप्रदेश ,ओर राजस्थान मुस्लिम भाइयो को बचाने के लिए मोदीजी की मदद की गुहार पर पुलिस बल जरूर भेजते ... |

         शायद इस से बड़ा कोई सबूत नहीं होगा की कॉंग्रेस ने आज तक जो भी गोधरा कांड के बारे मे कहा है वो सब झूठ था क्यू की ये बात मोदी जी कोंग्रेसी नेता दिग्विजय के मुंह पर कहे रहे है ...... एसआईटी ने भी किया था इकरार की गुजरात मे हादसे के वक़्त पुलिस बल कम ही था |



जागो मेरे प्यारे मुसलमान भाइयो .... और शेर की खाल में छुपे इन कोंग्रेसीयो से दूर भागो
कॉंग्रेस को मतलब था मोदी की बदहाली से ,,नहीं की मुसलमानों की खुशहाली से
::::
::
 

 

1 comment:

  1. जवाब तो अच्छा दिया इस कान्क्लेव में.

    ReplyDelete

Stop Terrorism and be a human

Note: Only a member of this blog may post a comment.