:

Tuesday, April 30, 2013

मौत सस्ती ओर महेंगा कफन ( सरकारी सच्चाई )

                                   " मौत से महेंगा कफन है दोस्तो इस देश मे .... क्यू की ये सरकार यही चाहती है की इस देश की जनता ...उसको वोट देनेवाली जनता भय,भूख, मे तड़पती रहे ताकि ये सरकार आराम से उन पर राज कर सके |"
 
* कहाँ गई वो बहादुरी ?
                                   " चीन का लश्कर भारत की सीमा के अंदर 19 km तक घुस आया है ...जिसको खदेड़ने की हिम्मत भारत सरकार और उसके उन वीरोंने मे नहीं है जिन्होने " रामलीला" मैदान मे रात को 12 बजे खेला था लाचार लोगो पर लाठीयों का तांडव ....अब कहाँ गई वो बहादुरी ? कहाँ गए सरकार के वो बहादुर ,अब क्यू चूप बैठी है सरकार ,क्या पड़ोसी देश इस देश की सीमा के अंदर घुस आए वो सही है या रामलीला मैदान मे बैठे वो आंदोलनकारी जो कहते थे विदेशो मे पड़ा काला धन इस देश मे वापस लाओ ? देश की जनता पर लाठीया चला सकती है सरकार मगर जब चीन इस देश की सीमा मे घुस जाता है तो चूड़ियाँ पहेंकर बैठ जाती है |"
 
* मीडिया एक खिलौना है क्या ?
                                " सूचना प्रसारण मंत्री मनीष तिवारी कहते है की चीन अंदर घुस आया है इस समाचार को मीडिया नहीं दिखाये तो अच्छा है क्यू की उस से देश मे अफड़ाताफड़ी का माहोल खड़ा हो सकता है ".....भैया आप की सरकार अच्छे काम करे तो मीडिया बताए न की ये देखो सरकार का काम ....मगर ये भी कमाल है की देश की मीडिया को इस सरकार ने कभी सच्चाई बताने को कहा ही नहीं है ....मीडिया को क्या बताना चाहिए ये भी तय ये सरकार ही करती है ...आप हमारे घोटाले ना बताओ ,आप सरकार के खिलाफ कोई भी खबर ना बताओ चाहे इस देश की जनता भूख से मरती क्यू ना हो ...चाहे इस देश की जनता आतंकी के द्वारा किए जा रहे बम धमाको मे मरती क्यू न हो ? चाहे इस देश की जनता भले ही अंधेरों मे रहेती हो या इस देश की बेटियो पर सरेआम बलात्कार क्यू ना हो ...मगर खबरदार अगर आपने सरकार के खिलाफ कुछ बोला ....लिखा..... या बताया |"
 
* क्रांति की ओर बढ़ रहा है भारत
                              " ये देश भी मीस्त्र जैसी क्रांति की ओर बढ़ रहा है इसमे संदेह नहीं है क्यू की देश के युवा का सब्र का बांध कभी भी टूट सकता है और इस मे गलती सरकार की ही है क्यू की विकास के नाम पर सरकार ने इस देश को भ्रष्टाचार , भय, महेंगाइ,बलात्कार,बम धमाके ही दिये है इस देश का आमआदमी सुरक्शित नहीं है मगर इस देश मे धमाके करनेवाला आदमी सुरक्शित ज्यादा है क्यू की ये सरकार चूड़ियाँ पहेनकर बैठी है |"
 
* पालतू कुत्ता हो तो "सीबीआई" जैसा
                             " सीबीआई का इस्तेमाल इस सरकार ने पालतू कुत्ते जैसा ही किया है इस मे कोई संदेह नहीं है क्यू की जब भी कोई आदमी सरकार के खीलाफ़ हो जाता है उसके 24 घंटे के अंदर उस आदमी पर सीबीआई की रेड हो जाती है ...मुलायम,ममता,बाबा रामदेव ये लिस्ट भी लंबी है भाई और अब तो इस बात का पुख्ता प्रमाण ये है की सुप्रीम कोर्ट मे ये साबित हो गया की कोयला घोटाले का रिपोर्ट सुप्रीम मे पेश होने से पहले प्रधानमंत्री कार्यालय मे हाजिर किया जाता था ओर बाद मे उस रिपोर्ट मे बदलाव करके सुप्रीम मे पेश किया जाता था ..... क्या गज़ब का कानून है ? जो गुनहगार के तलवे चाटता था ...क्या ऐसा ही जब आमआदमी किसी केस मे फसे तब करेगी क्या सीबीआई ? मै तो कहेता हु की करना चाहिए क्यू की उनको मिलनेवाला पगार इस देश की जनता देती है ...इस देश आमआदमी देता है ....ये कमीने नेता नहीं |"
 
* मजबूरी कुछ भी करवाती है
                                  " अगर ऐसा ही चलता रहा तो वो दिन दूर नहीं जब लोगो का कानून पर से ...इस देश की सरकार पर से भरोषा उठ जाए ओर लोग अपने हाथ मे कानून ले ..... क्यू उस दिन इस देश का आम आदमी भी मजबूर होगा ...अपने अस्तित्व के खातिर .....अपने बच्चो के खातिर ....अपने भविष्य के खातिर ...और कहते है न की मजबूरी कुछ भी करवाती है |"
 
* चूड़ियो का सेट भेजना पड़ेगा
                            " ये सरकार अपने घोटालो को छूपाने के लिए कभी पेट्रोल का इस्तेमाल करती है तो कभी किसी ओर चीज का पाकिस्तान ,बांग्लादेश जैसे छोटे देश भी अब तो भारत के कान के नीचे खींचकर बजा रहे है फिर भी ये नपुशंक सरकार उनको सलाम करती है ...शांति का संदेश भेजती है ...अरे चीन 19 km भारत की सीमा मे घुस आया है फिर भी सलमान खुर्शीद साहब चीन गए है मसला सुलजाने के लिए ....भाई क्यू गए हो वहाँ ? ये लातों के भूत है बाटो  नहीं मानते है ...ये वो भूत है जो भारत के सैनिक का सर कलम करके तोहफे मे भजते है ...बेकार सरकार ....भाई अब तो लगता है की चूड़ियो का सेट भेजना ही पड़ेगा इस बहादुर सरकार को |"

* चीन कहा तक घुस आया है
* चीनी सैनिकों की घुसपैठ को पहली बार 15 अप्रैल को भारत-तिब्बत सीमा पुलिस ने देखा था
* दोनों देशों के बीच 18 और 23 अप्रैल को फ्लैग मीटिंग हो चुकी है, पर समाधान नहीं निकला।
* चीन ने नए टेंट लद्दाख में बुर्त्से से 70 किलोमीटर दक्षिण में गाड़े हैं। इन टेंटों पर चीनी सेना ने 
  अंग्रेजी में लिखा है कि आप चीन के इलाके में हैं।
* राकी नाला इलाके में 50 चीनी सैनिक हैं। चीनी फौजियों के साथ न केवल गाड़ियां हैं, बल्कि
  विवादित स्थल से 25 किमी दूर स्थित स्थायी चौकी से गाड़ियों की आवाजाही भी हो रही है
 
::
:

4 comments:

  1. बहुत सुन्दर प्रस्तुति...!
    आपको सूचित करते हुए हर्ष हो रहा है कि आपकी इस प्रविष्टि् की चर्चा कल बुधवार (01-05-2013) बुधवासरीय चर्चा --- 1231 ...... हवा में बहे एक अनकहा पैगाम ....कुछ सार्थक पहलू में "मयंक का कोना" पर भी होगी!
    सादर...!
    डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री 'मयंक'

    ReplyDelete
  2. इस बहुमान के लिए तहे दिल से शुक्रिया आदरणीय शास्त्री जी

    ReplyDelete
  3. वास्तव में एक एक बात सच है |
    खरी खरी हर बात है, सहन करे सो वीर |
    सहन न करे जानिये ,उस को कुधी अधीर ||

    ReplyDelete
  4. देवदत्त साहब सही कहा आपने ...आप से सहेमत हु मै

    ReplyDelete

Stop Terrorism and be a human

Note: Only a member of this blog may post a comment.