:

Wednesday, July 13, 2011

कांग्रेस तो कब की खून से नहा रही है : एक सत्य ( सबूत के साथ )

       
                  " जब भी दंगों की बात आती है तब उछलता है एक ही नाम और वो है नरेन्द्र मोदी और गुजरात ..ना जाने कितने नाम नरेन्द्र मोदी को दिए गए इस दंगे के बाद ..मगर कभी किसीने ये नहीं सोचा की क्या इस देश में सिर्फ और सिर्फ गुजरात में ही दंगा फसाद हुवा था या फिर कही और भी ऐसी घटनाये हुई थी .. ? क्या कांग्रेस के शासन में कभी कोई हुल्लड़ नहीं हुवा है ? या जहाँ कांग्रेस की सत्ता है वहां पर जब भी कोई दंगा फसाद होता है तो कांग्रेस उस मामले को दबा देती है ..सायद यही हो रहा है इस देश में ..आप खुद ही देख लो .. की किस तरह कांग्रेस ने आज तक हम लोगों की आँख में धुल जोंकी है और खुद के शासन दरमियान हुवे दंगों के बारे में कभी कोई जिक्र नहीं किया है .... ये रही तवारीख के साथ ... दंगों की लिस्ट ..| "

साल      जगह            लोगों की मौत        सत्ता में                     मुख्यमंत्री 
१९४७    बंगाल             ५०००                   कांग्रेस             प्रफुल्ल चन्द्र घोस 
१९६४   जमशेदपुर        २०००                    कांग्रेस            के .बी .सहाय
१९६७   रांची                 २००                      कांग्रेस             
१९६९   अहमदाबाद       ५१२                     कांग्रेस            हितेंद्र देसाई
१९७०   भिवंडी              ८०                       कांग्रेस             वसंतराव नाइक 
१९७९   जमशेदपुर       १२५                      कांग्रेस            श्री राम सुन्दर दास
१९८०  मोरादाबाद        २०००                      कांग्रेस          विश्वनाथ प्रताप सिंह 
१९८४  भिवंडी              १४६                       कांग्रेस            वसंतदादा पाटिल 
१९८३   आसाम            २०००                     कांग्रेस             हितेश्वर सैकिया
१९८४   दिल्ली            २७३३                     कांग्रेस             राष्ट्रपति शासन
१९८५ अहमदाबाद       ३००                        कांग्रेस            माधवसिंह सोलंकी 
१९८६  अहमदाबाद      ५९                          कांग्रेस             अमरसिंह सोलंकी 
१९८७   मिरत             ८१                           कांग्रेस              वीर बहादुर सिंह 

                        " अब आप ही कहो अगर नरेन्द्र मोदी नर पिशाच है तो कांग्रेस की सरकार को आप क्या कहोगे ? अगर नरेन्द्र मोदी के हाथ खून से रंगे है तो फिर ये लिस्ट देखकर आप क्या कहोगे की कांग्रेस के हाथ ही नहीं मगर पूरी कांग्रेस जनता के खून से रंगी हुई है ...यही ना ?...खुद खून से नहाई हुई है और गुजरात के दंगो पर जोर दे रही है क्यों की कांग्रेस को गुजरात की सत्ता चाहिए और सत्ता और कांग्रेस के बिच आ रहे है "नरेन्द्र मोदी " इस लिए चाहे कोई भी तरीका क्यों ना हो ..नरेन्द्र मोदी को फसाओ ...और गुजरात की सत्ता हासिल करो सायद यही मंत्र है कांग्रेस का ... इस लिस्ट को देखकर तो यही लगता है क्यों की जहाँ ५००० और २००० लोगों की मौत हुई है उस पर भी ऐसी कड़ी कार्यवाही नहीं हुई थी जैसी गुजरात दंगों के केस में हो रही है ...तो फिर इसे क्या कहा जाये " न्याय प्रिय " कांग्रेस ..या फिर " सत्ता प्रिय " कांग्रेस | "

                                " जब तक गुजरात में कांग्रेस थी तब तक गुजरात सबसे पीछे था और नरेन्द्र मोदी के आते ही गुजरात आज पुरे विश्व में मशहूर और देश में अव्वल हो गया है ये है फर्क कांग्रेस और नरेन्द्र मोदी के शासन में .. | "

                              " इस लिस्ट में आपको सभी जगह (१३ जगह ) कांग्रेस का ही नाम दिखेगा ..क्यों की नरेन्द्र मोदी के हाथ सिर्फ खून से सने है ...मगर कांग्रेस तो कब की खून से नहा रही है ..... |"



यहाँ भी जाइयेगा जरूर  :       व्यंग - संसद ..तिहाड़ जेल और सोनिया 





5 comments:

  1. abhi to us ki jib bhut pyasi hai

    ReplyDelete
  2. Kya sach khola hai sahab.....
    Mujhe to ajtak pata nahi tha...!
    I heat congress....!

    ReplyDelete
  3. ishme apne 1992 mumbai bomb blast ke bad ka danga samil nahi kiya hai tabhi sarad pawar (congres) sata me thi. hamne vo congrss prastut kale din apni ankho se dekha hai

    ReplyDelete
  4. भ्रष्ट्राचार बेईमानी काला बझार लोकपाल कायदा ईन सबसे जनता का ध्यान दूसरी तरफ लगाना और अपनी भ्रष्ट्राचारी, बेईमानी की पाठशाला बरक़रार रखना यह भी मकसद इस हादसे के पीछे हो सकता क्यों की इस देश में कुछ भी हो सकता, मुंबई के लोकप्रतिनिधि आमदार , नगर सेवक नौकरशाही खासदार ईन सभी ने इस दुर्घटना की जबाबदारी लेते हुवे अपने अपने पद से इस्तीफे देना चाहीये.

    ReplyDelete
  5. लेकिन इन "सेकुलर लोगो" को तो सिर्फ मोदी में ही हैवान दीखता है, और कहीं नहीं.

    ReplyDelete

Stop Terrorism and be a human

Note: Only a member of this blog may post a comment.