:

Tuesday, November 27, 2012

“ मोदी का कमल कॉंग्रेस के पंजे पर भारी “


* चुनाव पूर्व कॉंग्रेस मे इस्तीफे चालू
* कॉंग्रेस को मोदी के खिलाफ झूठ बोलना महँगा साबित होगा
* कॉंग्रेस के कार्यकरो ने गुजरात कॉंग्रेस प्रमुख का पुतला जलाया
* 20 दिसंबर को गुजरात मनाएगा दिवाली

* कोंग्रेसियों ने जलाया गुजरात कॉंग्रेस प्रमुख का पुतला      
       गुजरात कॉंग्रेस मे चुनाव पूर्व ही मचा है तूफान, चुनाव के पूर्व ही भुज मे गुजरात कॉंग्रेस प्रमुख अर्जुन मोढवाडिया का पुतला कोंग्रेसी कार्यकारों द्वारा ही जलाया गया ये घटना साबित करती है की कार्यकरो को गुजरात के कॉंग्रेस प्रमुख से मनमुटाव है ओर जब प्रमुख से ही मनमुटाव हो तो परिणाम खुद ब खुद ही तय हो जाता है ओर वो है कॉंग्रेस की नैया डूबेगी |
  
  * कॉंग्रेस मे चल रहा है इस्तीफे का दौर
    एक तरफ कोंगी कार्यकर अपने पक्ष के पुतले जला रहे है तो दूसरी तरफ इस्तीफ़ों का दौर भी चालू है भुज,सूरत,राजकोट,भावनगर,सावरकुंडला,जूनागढ़,अहमदाबाद मे कोंग्रेसी कोरपोरेटर ओर कार्यकर अपने अपने इस्तीफे पक्ष प्रमुख को दे रहे है वो भी उस वक़्त जब चुनाव सर पर है ऐसे मे पहले से ही गुजरात मे कमजोर रही कॉंग्रेस क्या भाजपा को टक्कर दे सकेगी ?

* कोंग्रेसी कोरपोरेटर दे रहे है इस्तीफे  
    कोरपोरेटर कक्षा के लोग जब इस्तीफे देने लगे तो बात गंभीर बन जाती है क्यू की लोगो ने उन्हे गत चुनाव मे चुनकर दिया है ओर उनके इस्तीफे का परिणाम लोगो पर भी पड़ सकता है हालाकी इस्तीफे देनेवाले लोग खुद ही कॉंग्रेस के द्वारा यानि उनके पक्ष के द्वारा फैलाये गए झूठ से परेशान है ओर ऐसे ही झूठ से परेशान गांधीनगर कॉंग्रेस के एक मात्र केयर श्री राणा ने कॉंग्रेस प्रमुख को खत भी लिखा था जिसमे उन्होने साफ तौर पे लिखा था की जो कार्य कॉंग्रेस 45 साल के अपने राज के दौरान नहीं कर सकी वो कार्य श्री नरेंद्र मोदी ने मात्र 11 साल के अपने राज मे कर दिखाया फिर भी उनके खिलाफ झूठ क्यू बोला जा रहा है ? ओर ये खत का जवाब कॉंग्रेस प्रमुख की तरफ से ना आने पर मेयर श्री राणा ने इस्तीफा देकर भाजपा जॉइन किया था |
  
* झूठ की बुनियाद सच्चे विकास के आगे नहीं टिकती है 
      झूठ की बुनियाद कभी सच्चे विकाश के सामने नहीं टीक सकती है ये बात को साबित कर रही है कॉंग्रेस की आंतरिक लड़ाई ओर कोंग्रेसी सभयो द्वारा दिये जानेवाले इस्तीफे ओर आज कॉंग्रेस की ऐसी हालत के लिए जिम्मेदार अगर कोई है तो वो है गुजरात कॉंग्रेस प्रमुख श्री अर्जुन मोढ़वाढिया ,शंकरसिंह वाघेला,शक्तिसिंह गोहील क्यू की इनहोने ही सबसे ज्यादा झूठ नरेंद्र मोदी के खिलाफ फैलाये थे ओर ये तीन लोग ही कॉंग्रेस की नैया चुनाव के पूर्व ही डुबाएंगे ये तय ही है |
  
* मोदी जी को मिल रहा है समर्थन 
       श्री नरेंद्र मोदी जी को मिल रहा अपार समर्थन ओर कॉंग्रेस मे चल रहा इस्तीफे का दौर साबित करता है की लोग याने आम आदमी अब जान चुका है की सच्चा विकास ओर भ्रष्टाचार मे क्या फर्क होता है |
  
       ताझा समाचार के अनुसार राजकोट कॉंग्रेस के अति अहेम अशोक डाँगर, कश्मीराबेन नाथवानी ,मकवाना ने भाजपा जॉइन कर लिया है याने अब गुजरात मे मुक़ाबला कॉंग्रेस ,भाजपा ,पीपीपी के बीच नहीं बल्कि भाजपा ओर पीपीपी के बीच ही कहा जाए तो उचित रहेगा |
  
       जैसे जैसे चुनाव नजदीक आ रहे है वैसे वैसे चित्र साफ नजर आ रहा है की गुजरात के मुख्यमंत्री श्री नरेंद्र मोदी ने कुछ दिन पूर्व कहा था की गुजरात 20 दिसंबर को एक बार फिर से दिवाली मनाएगी ये बात सच ही साबित होगी ओर गुजरात ने पूर्ण रूप से तैयारी भी कर ली है दिवाली पुनः एक बार मनाने के लिए |    

::
::
::
 

2 comments:

  1. नरेन्द्र मोदी को भारत का प्रधानमंत्री बनाना है तो गुजरात से आना ही है यही भारत का भविष्य है वे तो जादूगर है जो भारतीय जनता को सम्मोहित कर रहे है.

    ReplyDelete
  2. दीवाली मननी ही चाहिये फिर से ………सार्थक आलेख

    ReplyDelete

Stop Terrorism and be a human

Note: Only a member of this blog may post a comment.