:

Tuesday, September 29, 2015

देहाती औरत और मोदी ? फर्क विदेशी दौरे मे



पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह अपने कार्यकाल के पहले साल मे 47 दीन विदेश मे रहे है और 12 देशो का दौरा कीया था, और वो सभी यात्रा ये गुमनाम होती थी क्यू की कोई नहीं जानता था की यात्रा से भारत को क्या लाभ हुवा और क्यू की यात्रा ? ये बात अलग है की “ देहाती औरत “ कहेकर पूरे विश्व भारतीय प्रधानमंत्री का मज़ाक उड़ाई जाता था ... ये सब इसलीये कहे रहा हु क्यू की मौजूदा प्रधानमंत्री मोदी के विदेशी दौरे पर बबाल मचा रखी है विपक्षोने 


देहाती औरत का बीरूद कोई दे नहीं सकता 

मोदी ने अपने कार्यकाल के प्रथम वर्ष मे 51 दीन विदेश मे गुजारे इस दौरान उन्होने 17 देशो की यात्रा ये की और उन्होने ये यात्रा क्यू की ये सब जानते है और उन यात्रा से क्या फायदा भारत देश को हुवा ये भी सबको पता है और प्रधानमंत्री मोदी के द्वारा यात्रा के बाद देहाती औरत “ कहेकर भारत के प्रधानमंत्री को संबोधीत करने की सम्पूर्ण विश्व मे हिम्मत नहीं है मोदी जी जहां भी गए बस्स ! छा गए 



मदारीयों का देश और गूंज उठा “ ॐ “ 

जो देश पहले भारत को मदारियों क देश के नाम से जानते थे वो देश आज भारत के योगा को अपना चुके थे और सम्पूर्ण विश्व “ ॐ “ की ध्वनी से गूंज रहा था क्यू की मोदी जी ने पहले जैसे प्रधानमंत्री जैसा व्यवहार नहीं कीया उन्होने यमन मे फसे विश्व भर के लोगो को सुरक्षीत नीकाला उन्होने बात नहीं की सीधा काम कीया आज पड़ोसी देश पाकीस्तान परेशान है ये वही देश है जिसे अमरीका अपने सर पर चड़ा बैठा था मगर आज उस देश के प्रधानमंत्री की हालत ना घर का न घाट का जैसी अमरीका मे हो गई है कोई पूछता तक नहीं है




क्या हम जवाब मे गोली मारे ? 
आज पड़ोसी देश पाकिस्तान मे हमारे प्रधानमंत्री पर बड़े बड़े TV डीबेट होते है वहाँ की मीडीया भी मोदी का जयजयकार कर रही है पहले पाकिस्तान की तरफ से कोई गोलीबारी करे तो ओफिस मे पूछना पड़ता था की पाकिस्तान गोलाबारी कर रहा है क्या हम जवाब मे गोली मारे ? और अब पहले पाकिस्तान को जवाब दे दो बाद मे ओफिस मे पूछो .... शायद ये बड़ा फर्क नजर आ रहा है




फायदा और गुमनाम दौरे ?
आज सभी देश भारत का लोहा मान चुके है याद रहे मनमोहन सिंह अपने कार्यकाल के पहले साल मे 47 दीन विदेश मे रहे है और 12 देशो का दौर कीया था, और वो सभी यात्रा ये गुमनाम होती थी और मोदी जी ने अपने कार्यकाल के प्रथम वर्ष मे 51 दीन विदेश मे गुजारे इस दौरान उन्होने 17 देशो की यात्रा ये की फर्क है 4 दीन और 5 देश के दौरे का मगर ये फर्क कुछ भी नहीं क्यू की मोदी जी के दौरे से जो फायदा देश को हुवा है वो गुमनाम दौरे से कभी नहीं हुवा था ये साफ नजर आ रहा है

चीत्रों के लीये आभार गूगल 
::::
:; 

No comments:

Post a Comment

आओ रायता फैलाते है

Note: Only a member of this blog may post a comment.