:

Thursday, November 26, 2015

सबसे बड़ा अंधा " आमीर खान " मील गया

                   " आखीरकार देश को सबसे बड़ा अंधा मील ही गया क्यू की उस अंधे ने, ना ही मुजफ्फर नगर के दंगे देखे है और ना ही आसाम , राजस्थान के दंगे ,और ना ही मुंबई आजाद मैदान के दंगे देखे है और देखेगा भी कैसे भाई क्यू की ये दंगे उसकी लाड़ली कॉंग्रेस सरकार के शासन मे जो हुवे थे , क्या करे बिचारा अंधा जो ठहेरा | "

               " सत्य मेव जयते का देश को पाठ पढ़ानेवाला सत्य नहीं देख सकता ये सबसे बड़ी कमाल की बात है " ISI और तालीबान के द्वारा जो पूरे विश्व मे हाहाकार मचाया जा रहा है वो भी इस अंधे आमीर को शायद नहीं दीखाई देता है और अगर दीखाई देता है तो कभी तो इस वीषय पर भी आमीर का बयान आना ही चाहीये क्यू की तालीबान और ISI पूरे विश्व मे पटाखे नहीं फोड़ रहे .... बम फोड़ रहे है और बारीश गोलीयों की कर रहे है | "


                     " मुंबई आझाद मैदान दंगे पर भी ये बाबू चुप थे शायद वो दंगा दीखाई नहीं दीया होगा आखीर अंधे जो ठहरे मगर ऐसे अंधे लोगो की वजह से ही देश की एकता का माहोल खराब हो रहा है ये सत्य बात है ,आमीर खान नामक इस अंधे ने अपनी अगली फील्म "दंगल " के लीये पब्लीसीटी पाने के लीये सबसे घटीया और देश का माहोल खराब करनेवाला रास्ता चुना है | "

* ये फुटबॉल और बेजबोल का खेल नहीं है
                      " अंधे आमीर खान भाई कभी इस चीत्र को देखने की कोशिश तो करना ये कोई पुजा आरती नहीं उतार रहे
कभी ऐसे लोगो पर भी बोला करो जो देश के वीर जवानो के साथ ऐसा खीलवाड करते है उनका अपमान करते है ओह माफ करना मै तो भूल ह गया की आप अंधे है | "

* केरेक्टर ढीला हो जायेगा 
            " सत्य मेव जयते प्रोग्राम मे बड़ी बड़ी डींगे हांकनेवाला सत्य को छूपा रहा है ? भाई ये कैसा सत्य है ? मेरे अंधे भाई आमीर खान जी अपनी आंखो का चेकअप करवा ही लो वरना आपका केरेक्टर कही आंखो की वजह से देशवासियों की नजर मे ढीला ना हो जाये  "

           " कॉंग्रेस के शासन मे लगभग हर महीने दंगे होते थे मगर वो दंगे इस अंधे बाबू को दीखाई नहीं देते थे आपको जानकर हैरानी होगी की इस अंधे बाबू ने कभी भी नीचे दीये हुवे दंगो पर एक शब्द नहीं बोला है तो मुजफ्फर नगर दंगे पर कैसे बोलेगा ? "

riot: 1947 Communal riots in Bengal | 5000-10000 Killed | Ruling party happened to be Congress

Riot 2: 1969 | Communal riots in Ahmedabad | More than 512 Killed in the city. 3000 to 15000 range in the entire state | Riots for 6 months | Ruling party happened to be Congress

Riot 3: Oct 1984 | Communal riots in Delhi | 2733 Killed | Ruling party Congress | Almost 100% casualty were Sikhs, which makes this a Rajiv Gandhi led genocide on India's minorities | Followed by “Big Tree falls” justification too from the Prime Minister!

Riot 4: Feb 1983 | Communal violence in Nellie, Assam | 2000-5000 killed | PM – Indira Gandhi (Congress party) - India's worst slaughter of Muslims in any single riot (just 6 HOURS)

Riot 5: 1964 Communal riots in Rourkela & Jamshedpur | 2000 Killed | Ruling party Congress

Riot 6: August 1980 | Moradabad Communal riots | Approx 2000 Killed | Ruling Party Congress

Riot 7: October 1989 | Bhagalpur, Bihar riots | 800 to 2000 killed | Ruling party Congress

Riot 8: Dec 1992 - Jan 1993 | Mumbai, Maharashtra riots | 800 to 2000 killed | Ruling party Congress

Riot 9: April 1985 | Communal riots in Ahmedabad, Gujarat | At least 300 Killed | Ruling party Congress

Riot 10: Dec 1992 | Aligarh, UP | At least 176 killed | Ruling party Congress (President's rule)

Riot 11: December 1992 | Surat, Gujarat | At least 175 killed | Ruling party Congress

Riot 12: December 1990 | Hyderabad, AP | At least 132 killed | Ruling party Congress

Riot 13: August 1967 | 200 Killed | Communal riots in Ranchi | Party ruling again Congress

Riot 14: April 1979 | Communal riots in Jamshedpur, West Bengal | More than 125 killed | Ruling party CPIM (Communist Party)

Riot 15: 1970 | Bhiwandi communal riots in Maharashtra | Around 80 killed | Ruling party Congress

Riot 16: May 1984 | Communal riots in Bhiwandi | 146 Killed, 611 Inj | Ruling party Congress | CM – Vasandada Patil

Riot 17: Apr-May 1987 | Communal violence in Meerut, UP | 81 killed | Ruling party Congress


Riot 18: July 1986 | Communal violence in Ahmedabad, Gujarat | 59 Killed | Ruling party Congress

                     " देश की एकता को अपने स्वार्थ के लीये तोड़ो मत अंधे आमीर खान जी इस देश ने आपको बहुत कुछ दीया है अगर ऐसा आपका अंधापन रहा तो आप हीरो मे से जीरो भी बन जाओगे इस बात मे कोई संदेह नहीं है याद रहे अंधे भाई की "देश धर्म से बड़ा कोई धर्म नहीं " आप इस धर्म को तोड़ो मत और हा आपण आंखो का चेकप करवा लेना " GET WELL SOON मामू "  |"

                      " अंधे को कोई कुछ नहीं कहेगा कहेना है तो सीर्फ " GET WELL SOON मामू " कहे 

एक नजर यहाँ भी करे : 
" एक घंटे मे गुजरात जला देते है "  
मुंबई आझाद मैदान की असली कहानी : विडियो 





:;::;